भारत में 5जी क्रांति लाने को पूरी तरह से तैयार है एयरटेल भारती, हर शहर में शुरू होगी सेवा


हाइलाइट्स

एयरटेल देश में 5जी क्रांति की शुरुआत करने के लिए तरह तैयार है.
एयरटेल ने निलामी के दौरान बड़ी तादाद में स्पेक्ट्रम खरीदा है.
कंपनी ने स्पेक्ट्रम नीलामी में 43,084 करोड़ रुपये की बोली लगाई थी.

नई दिल्ली. भारती एयरटेल ने स्पेक्ट्रम नीलामी में 43,084 करोड़ रुपये की कीमत के स्पेक्ट्रम के लिए बोली लगाने के बाद सोमवार को कहा कि वह देश में 5जी क्रांति की शुरुआत करने के लिए पूरी तरह तैयार है. गौरतलब है कि एयरटेल ने निलामी के दौरान 900 मेगाहर्ट्ज, 1800 मेगाहर्ट्ज, 2100 मेगाहर्ट्ज, 3300 मेगाहर्ट्ज और 26 गीगाहर्ट्ज़ फ़्रीक्वेंसी बैंड में 19867.8 मेगाहर्ट्ज़ स्पेक्ट्रम हासिल किया है.

एयरटेल ने एक बयान में कहा है कि इतनी बड़ी तादाद में स्पेक्ट्रम अधिग्रहण का मतलब है कि कंपनी को स्पेक्ट्रम को लेकर पैसा खर्च करने की जरूरत नहीं है. यानी कंपनी अब आने वाले कई वर्षों तक स्पेक्ट्रम पर कोई पैसा खर्च नहीं करेगी. इसके अलावा स्पेक्ट्रम खरीद से एयरटेल को स्पेक्ट्रम यूसेज चार्जेज (SUC) के भुगतान को कम करने और नए एन्ट्रेन्ट की तुलना में एडवर्स आर्बिट्रेज को खत्म करने में मदद मिलेगी.

5जी क्रांति के लिए तैयार है कंपनी
बयान में कहा गया है कि एयरटेल के पास अब देश भर में सबसे व्यापक मोबाइल ब्रॉडबैंड फुटप्रिंट है, जिससे कंपनी भारत में 5जी क्रांति की अगुआई करने के लिए तैयार पूरी तरह से तैयार है. एयरटेल के पास देश के हर एक हिस्से में 5जी सेवाएं शुरू करने की योजना है और वह इसकी शुरुआत प्रमुख शहरों से करेगी.

यह भी पढ़ें- Jio का सस्ता प्लान! सिर्फ 399 रुपये में फ्री मिलेगा Netflix, अमेज़न Prime और Disney+ Hotstar

वाइब्रेंट इको सिस्टम का निर्माण
कंपनी ने कहा कि हैदराबाद में लाइव 4जी नेटवर्क पर भारत के पहले 5जी एक्सपीरियंस करने से लेकर भारत के पहले ग्रामीण 5जी ट्रायल तक और 5जी पर क्लाउड गेमिंग अनुभव से लेकर ट्रायल स्पेक्ट्रम पर भारत के पहले निजी निजी नेटवर्क की सफल तैनाती तक, एयरटेल ने एक वाइब्रेंट इको सिस्टम का निर्माण कर उसका पोषण किया है.

देश में 5जी सेवाएं कराएंगे उपलब्ध
एयरटेल की योजना प्रमुख शहरों से शुरू होकर देश के हर हिस्से में 5जी सेवाएं शुरू करने की है. कंपनी ने कहा कि वह आश्वस्त है कि उसका हाई क्वालिटी कस्टमर बेस देश में तेजी से 5जी डिवाइस को अपनाएगा. इस अवसर पर भारती एयरटेल के सीईओ गोपाल विट्टल ने कहा है कि लेटेस्ट यह स्पेक्ट्रम अधिग्रहण तुलनात्मक रूप से काफी कम लागत पर बेहतर स्पेक्ट्रम संपत्ति खरीदने की रणनीति का हिस्सा रहा है. हमें विश्वास है कि हम देश में बेहतरीन 5जी सेवाएं और अनुभव उपलब्ध कराने में सक्षम होंगे.

Tags: 5G network, Airtel, Jio, Tech news, Tech News in hindi



Source link

Leave a Comment

Your email address will not be published.